केदार के सहारे ‘विराट’ जीत

तीन वनडे मैचों की सीरीज में भारत 1-0 से आगे, मैन आफ द मैच ‘केदार जाधव’

इंग्लैंड 350/7 50 ओवर, भारत 356/7 48.1 ओवर

पुणेः भारत ने पहले एकदिवसीय मैच में इंग्लैंड द्वारा दिए गए 350 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए मात्र 48.1 ओवर में ही 356 रन बनाकर मेहमान टीम को तगड़ा झटका देते हुए मैच अपने नाम कर लिया। अपनी कप्‍तानी वाले पहले एकदिवसीय मैच में विराट कोहली ने ही जिम्मेदारी संभाली। जब सलामी जोड़ी शिखर धवन और लोकेश राहुल के बाद महेंद्र सिंह धोनी और युवराज भी फेल हो गए तो विराट ने मोर्चा संभाला। काेहली (122) ने न सिर्फ शतक जड़ा बल्कि भारत को मुश्किलों से बाहर निकाल ले गए। बाद में केदार जाधव (120), हार्दिक पांड्या (40), रविंद्र जडेजा (13) और रविचंद्रन अश्विन (नाबाद 15) ने बेहतरीन खेल दिखाते हुए भारत को शान से जीत दिलाई। मैच में एक समय 63 रन पर चार विकेट गंवाकर बेहद संकट में घिरी भारतीय टीम को विराट और केदार ने संयमपूर्ण खेलते हुए पांचवें विकेट के लिए रिकार्ड 200 रनों की साझेदारी करके बाहर निकाला और टीम का स्कोर 263 रन पहुंचा दिया। विराट ने 122 रनों की पारी में 105 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौकों और पांच छक्कों की सहायता से लाजवाब शतक ठोका। विराट बेन स्टोक्स की गेंद पर डेविड विली को कैच थमा आउट हो गए। विराट के बाद केदार जाधव ने मोर्चा संभाला और मात्र 76 गेंदों में 12 चौकों और चार छक्कों की सहायता से जबरदस्त 120 रन बनाकर टीम को 300 के करीब तक लाने में सफल हुए। केदार के आउट होने के बाद हार्दिक पांड्या ने रविंद्र जडेजा के साथ फिर अश्विन के साथ नाबाद साझेदारी करके मैच में जीत दिलाते हुए भारत को तीन एकदिवसीय मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त दिला दी। केदार जाधव के शानदार प्रदर्शन के चलते उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ का पुरस्कार दिया गया।

इससे पहले मेहमान टीम ने जेशन राय 73, जो रूट 78, बेन स्टाेक्स 62, और जोश बटलर के 31 रनों की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों सात विकेट पर 350 रनों का पहाड़ जैसा स्कोर खड़ा कर दिया। भारत की तरफ से जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पांड्या ने दो-दो विकेट लिए। भारत की शुरुआत खराब रही और लोकेश राहुल, शिखर धवन और महेंद्र सिंह धोनी दहाई का भी आंकड़ा न छू सके। युवराज भी मात्र 15 रन बनाकर स्टोक्स के शिकार बने। इंग्लैंड की तरफ से जैक बाल ने तीन और बेन स्टोक्स तथा डेविड विली ने दो-दो विकेट लिए।

धोनी और युवराज हुए फेल

इस मैच में हर किसी की निगाह युवराज सिंह और महेंद्र सिंह धोनी पर थी। युवी ने तीन साल बाद भारतीय टीम में वापसी की। यहां उनकी शुरुआत तो अच्छी रही, लेकिन वो अपनी इस पारी को आगे नहीं बढ़ा सके और सिर्फ 15 रन बनाकर आउट हो गए। इसके अलावा पहली बार विराट कोहली की कप्तानी में खेल रहे धोनी से धमाके की उम्मीद की जा रही थी, लेकिन धोनी भी सिर्फ 6 रन ही बना कर आउट हो गए।

सलामी जोड़ी फेल

इस मुकाबले में भारतीय टीम की सलामी जोड़ी ने निराश किया। शिखर धवन और लोकेश राहुल भारतीय टीम को अच्छी शुरुआत नहीं दे सके। धवन एक और लोकेश राहुल आठ के स्कोर पर अपना विकेट दे बैठे। दोनों बल्लेबाजों को डेविड विली ने पवेलियन की राह दिखाई।

Leave a Reply

अन्य समाचार

मुख्य समाचार

उपर